blogid : 316 postid : 1523

Best age to get married for girls!!

Posted On: 5 Jul, 2012 Common Man Issues में

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

736 Posts

830 Comments

Right age to get married


भारतीय समाज में हमेशा से ही बेटियों को पराए धन की संज्ञा दी जाती है. जिस घर में बेटी जन्म लेती है उसे उसका घर ही नहीं माना जाता. यही वजह है कि अभिभावक अपनी बेटी को जल्द से जल्द उसके पति के घर भेजने का प्रयत्न करने लगते हैं.


एक समय था जब बहुत कम उम्र में ही बच्चियों का विवाह कर दिया जाता था. बाल-विवाह जैसी कुप्रथाओं की प्रधानता वाले भारत देश में उस उम्र में बच्चियों को गृहस्थी संभालने की जिम्मेदारी दे दी जाती थी जिस आयु में वह अपने हर कार्य के लिए अपने माता-पिता पर निर्भर रहती थीं. महिलाओं को ना तो पढ़ने की आजादी थी और ना ही परिवार के भीतर या बाहर उन्हें कोई विशेषाधिकार दिए गए थे. ऐसे में यह निश्चित था कि उसके जीवन से जुड़ा हर छोटा-बड़ा निर्णय उसके माता-पिता द्वारा ही लिया जाएगा. समय बदला और महिलाओं के हितों के प्रति भी लोगों का ध्यान आकर्षित हुआ. उन्हें शिक्षित और आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुहिम चलाई गई जिसके परिणामस्वरूप महिलाओं के भीतर भी पढ़ने और स्वावलंबी बनने की इच्छा जागृत हुई. परिवारों ने भी उनके इस कदम को सराहते हुए उन्हें पूर्ण समर्थन दिया. महिलाओं के हित में हुए इस बदलाव का सीधा प्रभाव उनके विवाह की उम्र में देखा गया. पुरुषों के समान आत्मनिर्भर और पढ़ने की इच्छा रखने वाली महिलाओं के विवाह करने की उम्र में महत्वपूर्ण बढ़ोत्तरी हुई और वह 28-30 वर्ष की उम्र में विवाह करने लगीं. 90 के दशक में अधिकांश महिलाओं ने इसी उम्र में विवाह किया.


लेकिन हैरानी वाली बात यह है कि आधुनिकता और शिक्षा के विस्तृत होते क्षेत्र के बावजूद आज महिलाओं के विवाह करने की उम्र में बढ़ोत्तरी नहीं हुई बल्कि कमी आई है. आज वह 25 की आयु में पहुंचने से पहले ही अपने जीवनसाथी के घर जाने की इच्छा रखने लगी हैं.

why women wants to get married in early age


एक वैवाहिक मैट्रिमोनियल साइट जीवनसाथी डॉट कॉम के द्वारा हुए इस सर्वेक्षण में आए नतीजों के अनुसार देश में ऐसी महिलाओं की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है जो 25 से पहले ही विवाह करना चाहती हैं.


2010-2012 के आंकड़ों पर आधारित इस रिपोर्ट के अनुसार तमिलनाडु और दिल्ली जैसे राज्यों में विवाह जल्दी करने वाली लड़कियों का प्रतिशत तेजी से बढ़ रहा है.  गुजरात में 54 और आंध्र प्रदेश में 53 प्रतिशत महिलाओं का विवाह 25 वर्ष की उम्र से पहले ही हो गया है. शोधकर्ताओं का यह भी कहना है कि पंजाब, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में भी लड़कियों के जल्दी विवाह बंधन में बंधने की प्रवृ


वेबसाइट के व्यवसाय प्रमुख रोहित मंगनानी का कहना है कि भले ही हम यह सोचें कि आज के समय में महिलाओं को देर से विवाह करने में कोई आपत्ति नहीं है लेकिन सर्वेक्षण यह स्थापित करता है कि आज महिलाएं अपनी इच्छा से 23-25 की उम्र में विवाह कर लेना चाहती हैं.  इसके पीछे विभिन्न सामाजिक-आर्थिक कारक और साथ-साथ व्यक्तिगत प्राथमिकताएं भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं.


जल्दी विवाह करने की प्रवृत्ति विशेषकर उन महिलाओं में अधिक देखने को मिलती हैं जो बिजनेस क्लास या आर्थिक तौर पर संपन्न परिवार से संबंध रखती हैं. प्राय: देखा जाता है कि वे महिलाएं जिनके अभिभावक जॉब करते हैं वह भी अपनी पहचान स्थापित करने के लिए प्रयासरत रहती हैं.


वैसे विवाह किस उम्र में करना है यह मसला व्यक्तिगत और पारिवारिक दोनों तरह से महिलाओं को प्रभावित करता है. विवाह एक बड़ी जिम्मेदारी होती है, जिसे निभाने के लिए पूर्ण समर्पण की जरूरत होती है. यही वजह है कि महत्वाकांक्षी महिला कभी जल्दी विवाह करने की नहीं सोच सकतीं वहीं दूसरी ओर जिन महिलाओं को पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाने में खुशी मिलती है उनके लिए विवाह की यह उम्र उपयुक्त है.


Is it better to get married in early age, why women prefer to get married between the age of 23-25.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग