blogid : 312 postid : 11

जयपुर वनडे में तय हुयी आखिरी गेंद पर जीत

Posted On: 22 Feb, 2010 Sports में

खेल संसारकौन जीता कौन हारा कौन बना सरताज, खेलों की दुनियां का लिखते सब हाल

Sports Blog

494 Posts

269 Comments


जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में 21 फरवरी को हुए पहले वनडे मैच में भारत ने द.अफ्रीका को एक बेहद रोमांचक मैच में एक रन से हरा कर जीत हासिल कर लिया. पहले तो भारत ने बल्लेबाजी में रैना, कार्तिक और कोहली की शानदार पारियों की बदौलत अपने निर्धारित 50 ओवरों में 298 रन बनाए. फिर गेंदबाजी में प्रवीण कुमार, रविंद्र जडेजा और पठान ने कमाल दिखाते हुए मैच को भारत के पाले में डाल दिया.

जीत का जश्न
जीत का जश्न


आखिरी क्षणों में मैच ने कई बार पलटी खाई , आखिरी गेंद तक मैच खिंचा. एक ओवर में सिर्फ 10 रन बचाने के लिए कप्तान धोनी का प्रवीण कुमार पर भरोसा दिखाना किसी को समझ नहीं आया मगर किस्मत के धनी धोनी का यह वार भी काम कर गया. पहले लग रहा था कि भारत बडे अंतर से जीत जाएगा मगर भारत को मात्र एक रन से जीत मिली.

दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध रोमांचक मैच में एक रन की जीत हासिल करने के बाद महेंद्र सिंह धोनी अपने गेंदबाज़ों पर जमकर बरसे . जयपुर वनडे के बाद धोनी ने बॉलरों पर निशाना साधते हुए कहा कि अंतिम ओवरों में हमारी गेंदबाजी बहुत खराब रही. विपक्षी टीम के पुच्छल्ले बल्लेबाजों का इतने ज्यादा रन बनाना टीम के लिए खतरनाक हो सकता था. उन्हें बाकी मैचों में अपने प्रदर्शन में निश्चित ही सुधार करना होगा.

वहीं दूसरी तरफ द. अफ्रीकी कप्तान जैक्स कालिस ने कहा कि हम दुर्भाग्यशाली रहे, लेकिन उन्होंने जीत का जज्बा दिखाया, खासकर वायेन पार्नेल व डेल स्टेन ने आखिरी दम तक जीत का जज्बा दिखाया.

रविंद्र जडेजा के हरफनमौला प्रदर्शन और यूसुफ पठान की कप्तान ने जमकर तारीफ की. जडेजा की तारीफ करते हुए माही ने कहा कि सहवाग पीठ के दर्द की वजह से आज गेंदबाजी नहीं कर सकते थे. मगर यूसुफ पठान विशेषकर जडेजा ने बेहतरीन गेंदबाजी और बल्लेबाजी की.

Man of The Match
Man of The Match

रविंद्र जडेजा को शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया..

जडेजा ने 29 रन देकर 2 अहम विकेट लिए साथ ही बल्लेबाजी में भी उपयोगी 22 रनों का योगदान दिया.

रविंद्र जडेजा ने कहा कि सटीक लाइन लेंथ ने मुझे विकेट दिलवाने में अहम भूमिका निभाई. जब मैं पावरप्ले में गेंदबाजी कर रहा था तो मेरी कोशिश सभी गेंद स्टंप पर कराने की थी, जिसमें मैं अधिकतर मौकों पर कामयाब भी रहा. साथ ही अंतिम ओवर में प्रवीण भाई की गेंदबाजी के साथ तेंदुलकर ने भी एक रन बचाकर अंतर पैदा किया.

अंततः कुल मिलाजुला कर भारत पहला मैच जीत ही गया. सीरीज का दूसरा मैच 24 फरवरी को ग्वालियर के रुपसिंह स्टेडियम में खेला जाएगा.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 4.67 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग