blogid : 312 postid : 968

2010 की टॉप टेन क्रिकेटिंग घटनाएं

Posted On: 1 Jan, 2011 Sports में

खेल संसारकौन जीता कौन हारा कौन बना सरताज, खेलों की दुनियां का लिखते सब हाल

Sports Blog

436 Posts

269 Comments

2010 में क्रिकेट में बहुत सी घटनाएं घटीं. कुछ अच्छी तो कुछ ने खेल का नाम धूमिल किया, स्पॉट फिक्सिंग से लेकर इंग्लैंड की ऑस्ट्रेलिया में एशेज़ विजय तक.

पेश है आपके सामने 2010 की टॉप टेन क्रिकेटिंग घटनाएं

1- ग्वालियर का मास्टर: 24 फरवरी 2010 का दिन क्रिकेट इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों से लिखा जाएगा. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ़ ग्वालियर एकदिवसीय में सचिन तेंदुलकर ने पुरुषों के एकदिवसीय क्रिकेट के इतिहास में दोहरा शतक जड़ा और दुनिया को दिखा दिया कि भले ही वह क्रिकेट को अलविदा कहने की दहलीज पर हों लेकिन अभी भी उनकी टक्कर में कोई नहीं है.

2- आईपीएल के शेर: आईपीएल तीन के लीग चरणों में भले ही मुंबई इंडियन ने लीग चरण में शानदार प्रदर्शन किया था लेकिन फाइनल मुकाबले में सिक्का चेन्नई सुपर किंग्स का चला. फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस को 22 रनों से हरा कर पहली बार आईपीएल की ट्राफी पर कब्ज़ा किया.

3- टी20 के सरताज: 133 सालों का इंतज़ार बहुत लंबा होता है लेकिन उस इंतज़ार के बाद मिली जीत आपके जीवन में खुशियां भर देती है. वेस्टइंडीज में खेली गयी टी20 के विश्व कप प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हरा पहली बार किसी विश्व कप ट्रोफी पर कब्ज़ा किया.

4- मुरली तुझे सलाम: अगर हम मुरलीधर को दुनिया का सबसे अच्छा गेंदबाज़ कहें तो इसमें कुछ आश्चर्य नहीं होगा. श्रीलंका के इस महान गेंदबाज़ ने अपने अंतिम टेस्ट मैच में 800 टेस्ट विकेट का एक ऐसा आंकड़ा छुआ जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती है.

5- एशियाई शेर: पन्द्रह साल, तीन बार फाइनल की हार और तीन अलग अलग कप्तानों की जोर-आजमाइश के बाद आखिरकार धोनी की सेना ने एशिया कप पर कब्ज़ा कर ही लिया. फाइनल में टीम इंडिया ने श्रीलंका को 81 रनों से हराया.

6- चेन्नई बने सुपर किंग्स: पहले आईपीएल फिर टी20 चैंपियंस लीग. कुछ ऐसा था चेन्नई सुपर किंग्स का 2010 में सफ़र. विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्लब के बीच खेले जाने वाले मुकाबले में जिसे टी20 चैंपियंस लीग भी कहा जाता है धोनी की टीम ने वारियर्स को हरा विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट क्लब कहलाने का तमगा हासिल किया.

7- स्पॉट फिक्सिंग का भूत: 2010 में क्रिकेट जगत का यह सबसे दुखदायी पल था. जब पाकिस्तानी क्रिकेट मैच फिक्सिंग के लिए पकड़े गए.

8- बांग्लादेशी चीतों की ललकार: भले लोग क्रिकेट में लोग बांग्लादेश को मेमना मानते हैं लेकिन अब लगता है कि यह मेमने बड़े हो गए हैं. जी हाँ न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ़ क्लीन स्वीप, यह कारनामा किया बांग्लादेश ने जिन्होंने न्यूज़ीलैण्ड को चारो एकदिवसीय मुक़ाबलों में हरा दिखा दिया कि अब उन्हें हल्के में लेना सही नहीं होगा.

9- पचास का आंकड़ा: 20 दिसम्बर 2010 को सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ़ खेले गए पहले टेस्ट की दूसरी पारी में सचिन तेंदुलकर ने शतक जड़ टेस्ट क्रिकेट में शतकों का अर्द्धशतक पूरा किया.

10- इंग्लैंड की एशेज़ जीत: बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रलिया को हरा 24 साल में पहली बार ऑस्ट्रेलिया को उन्हीं की धरती पर हरा एशेज़ ट्रॉफी पर कब्ज़ा किया.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.50 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग