blogid : 312 postid : 880

बारिश के बाद का तूफ़ान

Posted On: 8 Dec, 2010 Sports में

खेल संसारकौन जीता कौन हारा कौन बना सरताज, खेलों की दुनियां का लिखते सब हाल

Sports Blog

439 Posts

269 Comments

Yusuf Pathanलोगों का कहना था कि युसूफ पठान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकते हैं. आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाला इस आलराउंडर के पास संयम की कमी है जिसके कारण वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बार–बार फेल हो रहा है. इतनी आलोचनाओं का सामना करने के बाद भी टीम सलेक्टरों को युसूफ में पूरा भरोसा था और इसीलिए उनका टीम में चयन हो रहा था. और कल युसूफ ने सलेक्टरों के इस भरोसे को व्यर्थ नहीं जाने दिया.

34 ओवरों में 316 रन के विशाल स्कोर का पीछा करते हुए भारत ने 188 रन पर पांच विकेट खो दिए थे. उस समय ऐसा प्रतीत हो रहा था कि भारत का सूपड़ा साफ़ करने का सपना आँखों से ओझल हो रहा है, परंतु युसूफ पठान ने सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए भारत की बंगलुरू एकदिवसीय मैच में एक असंभव सी लग रही जीत का रास्ता साफ कर दिया.

युसूफ पठान की सबसे बड़ी कमजोरी उनका संयम है, वह पहली ही गेंद से चौके–छक्कों की बरसात करना चाहते हैं. लेकिन कल जिस संयम से उन्होंने अपनी पारी बुनी वह काबिले तारीफ़ है. पठान ने पहले पचास रन पचास गेंदों में बनाए, शॉर्ट पिच गेंदों को जिस तरह से उन्होंने डक किया, खराब गेंदों का इंतज़ार किया और जहां भी मौका मिला वहां रन जोड़े.

रोहित शर्मा के आउट होने बे बाद जिस तरह से युसूफ ने टीम की नैया को पार लगाने का ज़िम्मा अपने कंधों पर उठाया वह यह साबित करता है कि युसूफ अंतरराष्ट्रीय स्तर के लिए अपने आपको ढालने की कोशिश कर रहे हैं. यही नहीं सौरभ तिवारी के साथ जिस तरह की मैच जिताऊ पारी उन्होंने खेली वह उनकी परिपक्वता दर्शाता है.

कुछ समय बाद भारतीय उपमहाद्वीप में विश्व कप क्रिकेट होने वाला है. इस लिहाज़ से युसूफ पठान टीम के लिए बहुत उपयोगी हो सकते हैं. वह टीम इंडिया के उन खिलाड़ियों में से एक हैं जो एक ओवर में 20 रन ठोकने का माद्दा रखते हैं. बल्लेबाज़ी के अलावा वह एक उपयोगी गेंदबाज़ भी हैं जो एकदिवसीय क्रिकेट में 10 ओवर फेंक सकते हैं और निरंतर अंतराल पर विकेट भी ले सकते हैं. India Vs New Zealandयुसूफ पठान की टीम को इसलिए भी ज़रूरत है क्योंकि ऑलराउंडर जडेजा निरंतर निराश करते चले आ रहे हैं. और अगर भारत को विश्व कप जीतना है तो उसके पास एक मैच जिताऊ ऑलराउंडर होना ज़रुरी है.

इतिहास गवाह है कि जिस भी टीम ने विश्व कप जीता है उनकी जीत के पीछे ऑलराउंडर का बहुत बड़ा हाथ रहा है. जिम्मी अमरनाथ, सनथ जयसूर्या, वसीम अकरम, टॉम मूडी, इमरान खान टीम में ऑलराउंडर की महत्ता बयां करते हैं.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग