blogid : 14530 postid : 1387481

मजदूर की मंजिल ....!!

Posted On: 15 May, 2020 Common Man Issues में

tarkeshkumarojhaJust another weblog

तारकेश कुमार ओझा

305 Posts

96 Comments

प्रवासी मजदूरों की त्रासदी पर पेश है खांटी खड़गपुरिया की चंद लाइनें ….
मजदूर की मंजिल ….!!
तारकेश कुमार ओझा
—————————-

 

 

पत्थर तोड़ कर सड़क बनाता है मजदूर
फिर उसी सड़क पर चलते हुए उसके पैरों पर पड़ जाते हैं छाले
वोट देकर सरकार बनाता है मजदूर
लेकिन वही सरकार छिन लेती है उनके निवाले
कारखानों में लोहा पिघलाता है मजदूर
फिर खुद लगता है गलने – पिघलने
रोटी के लिए घर द्वार छोड़ देता है मजदूर
लेकिन आड़े वक्त में वहीं लगता है पुकारने

 

 

————————–
लेखक पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में रहते हैं और वरिष्ठ पत्रकार हैं। संपर्कः 9434453934, 9635221463

 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग