blogid : 12846 postid : 703428

लड़कियां अलर्ट! यह वी-डे है खास आपके लिए!

Posted On: 14 Feb, 2014 Others में

स्त्री दर्पणWomen Development and Empowerment

Women Empowerment

86 Posts

100 Comments

आज वी-डे है! वी-डे से क्या समझे? प्यार का दिन वैलेंटाइन डे! बात तो हम भी प्यार और भावनाओं की ही कर रहे हैं लेकिन यहां बात वैलेंटाइन ‘वी-डे’ की नहीं वरन् इस वी-डे से मतलब है ‘वॉयलेंस अगेंस्ट विमेन डे’. लड़कियां अलर्ट! यह वी-डे है खास आपके लिए!


Valentine’s Day

आज वी-डे है लेकिन यह वी-डे प्यार का नहीं सच्चे प्यार के एहसास का हक मांगने का है. हमने इसे नाम दिया है ‘एन-वी-डे’. जब पूरी दुनिया प्यार और वैलंटाइन डे की बात कर रही है हम यहां बात कर रहे ‘नॉन वॉयलेंस अगेंस्ट विमेन’ की. इस एन वी-डे का मतलब है घरेलू, पारिवारिक, सेक्सुअल, सामाजिक या किसी भी प्रकार महिलाओं के खिलाफ हो रही हिंसा के खिलाफ आवाज उठाकर उसे पूरी तरह खत्म करना और महिलाओं के लिए सचमुच एक ‘वी-डे’ मतलब वैलेंटाइन डे बनाना. लड़कियां अलर्ट! अपनी गर्लफ्रेंड, बेटी, पत्नी, बहन के लिए फिक्रमंद पुरुष भी अलर्ट हो जाएं! आप इस वी-डे (नॉन-वी-डे) पर इन्हें ज्वाइन कीजिए और अपने लिए असली प्यार के एहसास या अपने करीबियों के लिए प्यार के एहसास का हक मांगिए. आज के दिन एक गुलाब लेकर अपने बॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड से प्यार का इजहार मत कीजिए. आप अपना हक मांगने के लिए कहीं मत जाइए क्योंकि फेसबुक, ट्विटर का निराला अंदाज एक बार फिर आपका साथ निभाएगा. तो इनसे जुड़िए और बताइए कि क्यों आवाज उठाई है आपने प्यार के असली एहसास का हक पाने के लिए?


पर यह वी-डे है क्या?

V-Dayवी-डे से क्या समझे? प्यार का दिन वैलेंटाइन डे! बात तो हम भी प्यार और भावनाओं की ही कर रहे हैं लेकिन यहां बात वैलेंटाइन डे (वी-डे) की नहीं हो रही. इस वी-डे से मतलब है ‘वॉयलेंस अगेंस्ट विमेन डे’. खासतौर पर लड़कियों को अलर्ट होने की जरूरत इसलिए है क्योंकि यह दिन उन्हीं के लिए है. यह वी-डे है खास आपके लिए! एक कंबोडियन सर्वे के अनुसार 47.4% यंग मेन वैलेंटाइन डे के दिन अपने पार्टनर को शारीरिक संबंध बनाने के लिए जबरदस्ती करते हैं. 376 पुरुषों पर किए इस सर्वे में इन 47% पुरुषों ने स्वीकार किया कि वे वैलेंटाइन डे के दिन अपने साथी के साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहते हैं भले ही उनकी महिला साथी, पत्नी इसके लिए तैयार न हो. बहुत छोटे स्तर पर 15 से 24 वर्ष तक के मात्र 715 महिला और पुरुषों पर किए इस सर्वे की इन सच्चाइयों ने ‘वैलेंटाइन डे’ को ‘प्यार का दिन’ मानने की धारणा को बदलकर महिलाओं के लिए डर और खौफ का दिन बना दिया है.

एक कहानी ऐसी भी


महिलाओं के खिलाफ ऐसी ही हिंसा की घटनाओं को ध्यान में रखते हुए सोजर्नर्स पत्रिका ने इस वैलेंटाइन डे (वी-डे) को प्यार का दिन के रूप में चॉकलेट और गुलाब के फूल के साथ न मनाकर उनके साथ ‘वॉयलेंस अगेंस्ट विमेन डे’ के रूप में मनाकर महिलाओं की सुरक्षा के लिए आवाज उठाने और असली प्यार के एहसास को बढ़ावा देने में उनके साथ जुड़ने की शुरुआत की है. इसके लिए खास तौर से वी-डे वेबसाइट बनाई गई है और फेसबुक पेज भी है. वी-डे से जुड़ने वाले वेबसाइट या फेसबुक पर कहीं भी अपनी कहानियां जिसके लिए वे आवाज उठाना चाहते हैं, शेयर कर सकते हैं. तो अब आपको सोचना है 14 फरवरी को एक अरब लिंग आधारित हिंसा को खत्म करने के लिए वी-डे (वॉयलेंस अगेंस्ट विमेन) मनाना है या बस एक दिन के लिए अपने बॉयफ्रेंड से चॉकलेट, गुलाब और तोहफे लेकर या गर्लफ्रेंड को चॉकलेट, गुलाब या तोहफे देकर यह दूसरा ‘वी-डे (वैलेंटाइन डे)’ मनाना है. चुनाव आपका है कि आपको असलियत में प्यार का दिन मनाना है या दिखावा कर दूसरे दिन स्लैप डे के साथ आगे बढ़ जाना है.

चाहे न चाहे तू, आकाश यही है तेरा

क्या आज भी चित्रलेखा की तलाश जारी है ?

लड़की औरत कब बने?

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग