blogid : 5476 postid : 333

ऐसी दीवानगी देखी है कहीं ?

Posted On: 31 Jan, 2013 Others में

kahi ankahiJust another weblog

yogi sarswat

66 Posts

3690 Comments

इस दुनिया में किसी ने कहा है कि दो तरह के लोग होते हैं, एक वो जो जिंदगी भर एक ही काम करते रहते हैं और दूसरे वो जो एक ही जिंदगी में बहुत सारे काम कर जाते हैं ! के . सुधाकर इनमें से दूसरे तरह के लोगों में शामिल हो सकते हैं जिन्होंने अपने जूनून और लगन से एक ऐसा संसार तैयार कर दिया जिसे देखकर दुनिया वाह वाह कर उठती है ! जी हाँ , संसार ! लोगों का नहीं ! कारों का संसार ! लोगों का संसार तो वैसे ही ओवरलोड हो चुका है , इसे और ओवर लोड करने में हम हर रोज़ लगे पड़े हैं ! भारत के हैदराबाद में सुधा कार्स (Sudha cars ) के नाम से स्थित कारों का ये संसार बरबस ही मन मोह लेता है और मन में कोतुहल पैदा करता है कि क्या ये सब इंसान कर सकता है ? लेकिन ये सब एक इंसान ने ही कर दिखाया है ! इंसान क्या नहीं कर सकता ? बस फुर्सत तो मिले ! सुधा कार्स विश्व का इस तरह का पहला और एकमात्र म्यूजियम है !

veh101 img26 img80

इसे स्थापित करने वाले सुधाकर को नए नए डिजाईन के कार बनाने का शौक लगभग बचपन से ही हो गया था ! लगभग 14 वर्ष की उम्र में सुधाकर ने एक बाइसिकल डिजाईन करी और उसके अगले साल ही इजी राइडर बाइक डिजाईन करी ! सुधाकर ने लगभग 150 विभिन्न प्रकार की कार डिजाईन करी हैं जैसे “गो कार्ट्स ” , Dune Buggies’, ‘Wacky Cars, like Brinjal Car, Camera Car, Cricket Ball Car, Shivling Car, Cup & Saucer Car, Helmet Car, Computer Car, Double Bed Car, Football Car. उनकी डिजाईन की हुई गाड़ियाँ आपको हैदराबाद की सडकों पर भी पर्यटकों को घुमाती हुयी दिख जाएँगी !

102 img8

सुधाकर के इस शौक ने उन्हें उन्हें ट्राई साइकिल बनाने के लिए भी प्रेरित किया और उन्होंने विश्व की सबसे बड़ी ट्राई साइकिल बनाई जिसके लिए उन्हें गिनीज़ बुक ऑफ़ रिकार्ड्स में जगह दी गयी !

अपने काम के प्रति गर्व और सम्मान का अनुभव करने वाले सुधाकर ने बाइक की भी बहुत डिजाईन प्रस्तुत किये हैं और ये कोई प्रोटो टाइप नहीं हैं बल्कि और वाहनों के जैसे बाकायदा सड़क पर चले हैं ! उन्होंने मात्र 13 इंच ऊंची एक मोटर बाइक डिजाईन की है जो करीब 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से दौड़ती है ! है न अजूबा ? ओह ! ये अजूबा और अजूबों का निर्माण करने वाला सुधाकर अपनी एक साइकिल के लिए भी जाना जाता है जो केवल 6 इंच ऊंची है और भारत की सबसे छोटी साइकिल है ! सुधाकर ने करीब 30 मोटर बाइक डिजाईन किये हैं और उन्हें अलग अलग नाम दिए हैं ! सामाजिक कार्यों में गहरी रूचि रखने वाले सुधाकर ने AIDS के प्रति जागरूकता बढाने के लिए कंडोम बाइक डिजाईन की है और वो आगे मिनी कंडोम बाइक रेसिंग प्रतियोगिता करने के इच्छुक नज़र आते हैं !

tennis bat सुधाकर ने 2003 में भारतीय क्रिकेट टीम को शुभकामनाएं देने के लिए क्रिकेट बॉल के आकर की एक कार डिजाईन करी थी जिसके टेप पर क्रिकेट विश्व कप के विषय में लिखा गया था ! इसी तरह 2006 के फूटबाल विश्व कप के लिए सुधाकर ने फूटबाल की बाल के आकार की कार डिजाईन करी थी !

विश्व की जिस सबसे बड़ी ट्राई को साइकिल बनाने के लिए सुधाकर को गिनीज़ बुक में जगह दी गयी है वो 41 फुट और 7 इंच ऊँची है ! इस लगभग 3 टन वज़न की ट्राई साइकिल के पहियों का व्यास 17 फुट का है और इसकी लम्बाई 37 फुट 4 इंच के करीब है ! इस ट्राई साइकिल को बनाने में सुधाकर को करीब 3 साल का समय लगा !

sidelft img90

अपने भविष के काम के विषय में बात करने पर सुधाकर बताते हैं की उनकी योजना FOUNTAIN PEN BIKE”, “BASKET BALL CAR”, “TENNIS BALL CAR”, “ LADIES HAND BAG CAR”, “STILLETTO CAR”, “LIPSTICK BIKE”, “PRESSURE COOKER CAR”, “SOFA CAR”, “ BOOK CAR”, “MOBILE PHONE CAR” बनाने पर ध्यान केन्द्रित करने की है !

तो कैसा लगा आपको कारों का ये अजीब कारवाँ ? बताइए जरूर ! और हाँ ! अब ये कहना भी बंद कर दीजिये की जो अच्छा करते हैं वो सिर्फ अँगरेज़ ही करते हैं ! हौसला रखिये तो अपने यहाँ भी प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं !

जय हिन्द !

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (11 votes, average: 3.55 out of 5)
Loading...

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग